Ramappa Temple Current Affairs 2021 Hindi

नमस्ते दोस्तो आज इस पोस्ट में Ramappa Temple Current Affairs 2021 Hindi में जानकारी प्राप्त करेंगे

Ramappa Temple Current Affairs 2021 Hindi

Ramappa Temple Current Affairs 2021 Hindi

  • वर्तमान में भारत के रामप्पा मंदिर, जिसे हम रुद्रेश्वर (भगवान शिव) मंदिर के नाम से भी जानते है।
  • हालहीमें रामप्पा मंदिर को यूनेस्को के द्वारा विश्व धरोहर स्थल के रूप में शामिल किया गया है।
  • विश्व धरोहर स्थल में शामिल होने वाला यह भारत का 39वां स्थल है।
  • 25 जुलाई, 2021 को विश्व धरोहर समिति के 44वें सत्र में इस स्थल को विश्व धरोहर स्थल में शामिल करने का निर्णय लिया गया।
  • वर्ष 2019 में भारत सरकार द्वारा रुद्रेश्वर (रामप्पा मंदीर) को यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल के रूप में नामांकन के लिए प्रस्तावित किया गया था।
  • रुद्रेश्वर (रामप्पा मंदीर) भारत के तेलंगाना राज्य के मुलुगु जिल्ले के पालमपेट गाँव में स्थित है।
  • पालमपेट गांव छोटा सा है लेकिन 13वीं और 14वीं शताब्दी के काल में इसका एक महत्वपुर्ण इतिहास रहा है।
  • रामप्पा मंदीर के परिसर में उपस्थित एक शिलालेख के अनुसार इसका निर्माण वर्ष 1213 में काकतीय साम्राज्य के शासनकाल के दौरान, यह काकतीय राजा श्री गणपति देव के एक सेनापति श्री रेचारला राद्र द्वारा किया गया था।
  • इस मंदिर में भगवान रामलीगेश्वर (भगवान शिव) की पूजा की जाती है।
  • यह भारत का एकमात्र मंदिर है। जिसका नाम मूर्तिकार रामप्पा के नाम पर रखा गया है।
  • रामप्पा ने इस मंदिर में 40 साल तक काम किया था।
  • यह मंदीर दीवारों, खंभों और छत पर जटिल नक्काशी के साथ 6 फुट ऊंचे तारे जैसे मंच पर खड़ा है।
  • यह रामप्पा मंदिर काकतीय मूर्तिकारों के अविश्वनीय काम की पुष्टि करता है।
  • रामप्पा मंदीर की मुख्य संरचना का निर्माण लाल बलुआ पत्थर से किया गया है।
  • मंदिर के बाहर के स्तंभों मैग्नीशियम,लौह और सिलिका से समृद्ध काले बेसाल्ट के बड़े पत्थरों से बनाया गया है।
  • मंदिर पर काकतीय कला की उत्कृष्ट कृतियाँ पौराणिक जानवरों और महिला नर्तकियों, संगीतकारों की आकृतियों बनाई गई है।
  • यूनेस्को की विश्व समिति में वर्तमान में कुल 21 सदस्य हैं।
  • यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों का चयन यूनेस्को की विश्व धरोहर समिति द्वारा किया जाता है।
  • कोविड-19 महामारी के कारण वर्ष 2020 और 2021 के नामांकन पर एक ऑनलाइन बैठक के माध्यम से चर्चा की गई थी।
  • चीन इस समिति का वर्तमान अध्यक्ष है।
  • वर्ष 2019 में जयपुर को 38वें विश्व धरोहर स्थल के रूप में शामिल किया गया था।
  • विश्व धरोहर स्थलों की संख्या के मामले में भारत का विश्व में छठा स्थान है।
  • यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शामिल होने वाली भारत की पहली साइट अजंता की गुफाएँ है।
  • अजंता की गुफाएँ को 1983 में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया था
  • यूनेस्को की स्थापना 16 नवंबर 1945, लंदन हुई थी।
  • यूनेस्को का वर्तमान प्रमुख और महानिदेशक ऑड्रे अज़ोले है।
  • यूनेस्को की स्थापना भारत, संयुक्त राज्य अमेरिका, फ्रांस, ब्राजील, चीन, मैक्सिको, अधिक देशोने मिलकर किया था।
  • यह भी जरूर पढे: विश्व कैडेट कुश्ती चैंपियनशिप 2021 करंट अफेयर्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *